Saturday, September 24, 2022

एक्टर दीप सिद्धू की मौत पर क्या बोले डायरेक्टर अमरदीप सिंह

हरियाणा के सोनीपत जिले में कुंडली पलवल मानेसर मार्ग पर देर रात टोल प्लाजा के पास दर्दनाक एक हादसा हुआ और उस हादसे ने पंजाब के एक्टर दीप सिद्धू की मौत हो गई। दीप सिद्धू पंजाब के चर्चित कलाकार थे। और पिछले दिनों दिल्ली में किसान आंदोलन के समय वे और ज्यादा चर्चा में रहे। बताया जा रहा है कि इस हादसे में उनकी मंगेतर घायल हो गई। और उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। दीप सिद्धू की गाड़ी हाईवे पर खड़े ट्रक से टकरा गई, जिसकी वजह से यह हादसा हुआ। जब वे स्कॉर्पियो गाड़ी में दिल्ली से लौट रहे थे तब यह हादसा हुआ। 2 दिन पहले ही उन्होंने अपने मंगेतर रीना रॉय के साथ वैलेंटाइन डे मनाया। पंजाबी फिल्म रंग दे पंजाब में दीप और रीना ने एक साथ काम किया था और वहीं से इनके प्यार की खबरें आने लगी थी।

बॉलीवुड लोचा टीम से बात करते हुए उनके साथ काम कर चुके एक्टर जीत सिंह ने फोन पर बताया कि उनकी पहली मुलाकात जोरा 10 नंबरिया फिल्म के पहले पार्ट बनने के दौरान हुई थी पूनम सूट के दौरान तो बस उनकी यह मुलाकात नॉर्मल तरीके से हुई। बाद में मुंबई में फिल्म के डायरेक्टर अमरदीप सिंह के घर पर उन्होंने खुलकर मुलाकात की। उन्होंने बताया कि दीप सिंह बहुत ही नरम दिल, प्यारे, नेक विचार वाले थे। डायरेक्टर अमरदीप सिंह के घर उनकी मुलाकात बड़ी गर्मजोशी से हुई। उसके बाद इस फिल्म के दूसरे पार्ट के समय भी वे दोनों आपस में मिले। उसके बाद मुंबई में जीडब्ल्यू मेरिट के सामने भी एक बार दीप सिंह से मिले थे। एक्टर जीत सिंह ने बताया कि जब वे मिले तो वहां उनके पहले से कुछ दोस्त थे पत्रकार आदि। मुझे भी उन्होंने बहुत अच्छे से मिलवाया और मेरा परिचय दिया। उसी समय जोरा नंबर 3 के शूट के बारे में भी उनकी बातें हुई। इस तरह जीत सिंह और दीप सिद्धू की कई मुलाकातें हुई।

एक्टर जीत सिंह ने दीप सिद्धू की मौत के बारे में फोन पर यह भी कहा कि उनके साथ जो दुर्घटना हुई है उसे लेकर कहा कि- उन्हें अभी भी यकीन नहीं हो रहा है कि यह सब हो गया। और वह हमारे बीच अब नहीं है। उन्हें काफी दुख है उनके जाने का प्रोग्राम एक्टर अजीत सिंह ने बताया कि वह बहुत मेहनती थे और उन्होंने अपने दम पर ही बहुत काम भी किया। फिल्म बनाई, समाज के हित में कई काम किए। उनकी जान को भी खतरा था उन्हें लेकर काफी मिसअंडरस्टैंडिंग भी लोगों ने बनाई। लेकिन वे पीछे नहीं हटे। राजनीतिक रूप से भी वे काफी विचार मानते। सजग और सचेत थे। उनके विचारों से कोई चाहे सहमत हो या ना हो लेकिन वह सीधा साफ बोलते थे कि मैं यह सोचता हूं। पंजाब के हित में भी काफी कुछ उन्होंने कहा और बोला कि क्या सही है और क्या गलत। कोई नेता अच्छा था पंजाब का तो वो कुछ गलत करता या उन्हें कुछ अच्छा उन्हें नहीं लगता तो भी वे खुलकर बोलते थे। और वह अगर कुछ गलत कर रहा है तो उसके बारे में भी वे साफ बोलते थे। कि क्या करना सही है क्या नहीं किसी के भी अंधभक्त नहीं थे। अपनी विचारधारा उनकी स्पष्ट थी।

एक्टर और गायक दीप सिद्धू किसान आंदोलन के समय ज्यादा चर्चित हुए। उसी सिलसिले में एक्टर जीत सिंह ने बॉलीवुड लोचा से यह कहा कि किसान आंदोलन के समय भी नाम उनका बदनाम करने की कोशिश की गई नाम बलि का बकरा बनाया गया उन्हें। वहां झंडा लगाने की वीडियो भी हैं अब तो, उसमें सब कुछ साफ दिखाई दे रहा है। तिरंगा अपनी जगह लगा हुआ था। झंडा उन्होंने अपने हाथ से नहीं लगाया था बस बातें बनाई और फैलाई गई उनके बारे में।

बता दें कि लाल किले पर झंडा फहराने और हिंसा फैलाने के आरोप में दीप सिद्धू को आरोपी बनाया गया था। और उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी पूर्णविराम और अभी पंजाब में चुनाव के समय सिद्धू अमरगढ़ से शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सिमरनजीत सिंह मान का भी प्रचार कर रहे थे। किसान आंदोलन के समय जब उन्हें कुंडली बॉर्डर पर बोलने का मौका नहीं दिया गया तब दीप सिद्धू सोशल मीडिया के जरिए सामने आए और किसान नेताओं के फैसलों पर भी सवाल उठाते रहे। इसी दौरान जब फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने सोशल मीडिया पर एक्टर और गायक दीप सिद्धू का एक वीडियो शेयर किया और लिखा कि गरीब भूमिहीन किसान जिनके लिए लोग रो रहे हैं तो उसके बाद भी उसकी भी खूब चर्चा हुई।

दीप सिद्धू किंगफिशर मॉडल हंट के विजेता रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने मुंबई में हेमंत त्रिवेदी और रोहित गांधी जैसे डिजाइनर्स के लिए रैंप वॉक भी की है। इसके अलावा उन्होंने लॉ की पढ़ाई भी की थी। सहारा इंडिया परिवार के लिए कानूनी सलाहकार के रूप में भी कार्य किया था। फिल्मों के मामले में उनकी पहली फिल्म रमता जोगी रिलीज हुई थी, जिसमें उन्होंने जोगी का किरदार निभाया था। उसके बाद साडे आले और जोरा 10 नंबरिया में भी उन्होंने काम किया था।

जोरा 10 नंबरिया के डायरेक्टर अमरदीप गिल ने बॉलीवुड लोचा टीम से बात करते हुए फोन पर कहा कि – मैंने उसे फिल्म में ही नहीं लिया था सिर्फ बल्कि वह मेरा छोटा भाई था। हम एक ही शहर के रहने वाले थे बठिंडा के। हमने बठिंडा में एक बैनर भी बनाया था। जोरा 10 नंबरिया फिल्म हमने बनाई। मुंबई में भी हम एक साथ रहे। दीप के कारण साल 2015 में मुंबई शिफ्ट हुआ। हमारा एक उसके साथ परिवार जैसा रिश्ता था। उसके साथ में अपने भाई और बेटे की तरह व्यवहार रखता था। दीप बड़ा ही भला आदमी था। वह बहुत कमाल आदमी था, जिस भी फील्ड में वह उतरता उसमें उसमें कामयाबी पाई हमेशा। पहले वह मुंबई में बहुत बड़े-बड़े डायरेक्टर्स के साथ में रहा। वकील भी था। भंसाली, देओल फैमिली, एकता कपूर इन सब के साथ भी उसके तालुकात थे। इसके बाद वह फिल्मों में भी आया। और पंजाब में भी उसने बतौर सोशल एक्टिविस्ट काफी काम किया। उसको बहुत कुछ लोगों की तरफ से झेलना भी पड़ा, लांछन लगे कई उस पर। ऐसे लोग बहुत कम होते हैं जिनके अंदर एक पॉजिटिव ऊर्जा होती है। काम करने की अलग-अलग क्षमता होती है। उनमें एक अलग ही शक्ति और पावर होती है। बाकी आप देख सकते हैं कि पंजाब और पूरी दुनियां के लोग काफी रो रहे हैं। उसकी मौत एक बहुत बड़ी ट्रेजेडी है।

बॉलीवुड लोचा टीम दीप सिद्धू के साथ हुए इस हादसे जिसमें उनकी जान चली गई पर दुःख प्रकट करते हुए ईश्वर से कामना करती है कि उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।

Bollywoodlocha Team
Bollywoodlocha Teamhttps://hotleague.net/
If you love gossips , controversial or good news about bollywood , then this is the best place for you to read latest bollywood news. We care about your entertainment.

Related Articles

Stay Connected

21,986FansLike
3,495FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles