मूवी ट्रेलर वीडियो

ट्रेलर रिव्यू : ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ इज्जत बचा पाएगी…?

Trailer Review Gangubai kathiawadi

‘अरे जब शक्ति, सम्पति, सद्बुद्धि ये तीनों ही औरतें हैं तो इन मर्दों को किस बात का गुरुर।’

“शायद आपको मेरी बात थोड़ी सी कड़वी लगे लेकिन ध्यान से सुनना हँ। आपसे ज्यादा इज्जत है हमारे पास। आपकी इज्जत एक बार गई तो गई। हम तो रोज रात को इज्जत बेचती है, साली ख़त्म ईच नहीं होती।”

ये डायलॉग है आज एक बार फिर से पैन इंडिया के यूट्यूब चैनल पर रिलीज हुए ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ फ़िल्म के ट्रेलर का। संजय लीला भंसाली की एक और धमाकेदार कही जाने वाली फिल्म। जो लंबे समय से ठंडे बस्ते में पड़ी थी। कोरोना के चलते कई बार इसकी रिलीज डेट को बार-बार आगे पोस्टपोंड किया जा रहा था। फिर बीच में कुछ ऐसी खबरें भी आईं कि शायद ओटीटी पर रिलीज हो सकती है।

लेकिन संजय लीला भंसाली है अपनी धुन के पक्के सिनेकार। आखिरकार थियेटर में 25 फरवरी 2022 को रिलीज होने जा रही इस फ़िल्म का करीबन साल भर पहले पैन इंडिया के चैनल से ही ट्रेलर रिलीज किया गया था। उसमें भी ऐसे ही हार्ड हीटिंग डायलॉग्स देखने को मिले थे। उस ट्रेलर में बैकग्राउंड स्कोर जितना दमदार लग रहा था उससे कहीं ज्यादा नए तरीके से इस आज रिलीज हुए ट्रेलर में ताजगी सी नजर आ रही है।

Gangubai kathiawadi

फिर से बात करें पुराने ट्रेलर की तो उसे देखते हुए रोंगटे से खड़े होने का अंदाज लग रहा था कि थियेटर में संजय लीला भंसाली एक बार फिर से सनसनी अपनी फ़िल्म के लुक, सिनेमैटोग्राफी, बैकग्राउंड स्कोर और भव्यता के चलते लेकर आएंगे। लेकिन बात करें नए वाले ट्रेलर की तो उसमें थोड़ा सॉफ्टनेस सी नजर आती है। कहीं-कहीं इसे देखते हुए लगता है कि इस फ़िल्म में सम्भवतः कोई रैप सांग हो सकता है।

“कहते हैं कमाठीपुरा में कभी अमावस की रात नहीं होती क्योंकि वहां गंगू रहती है। गंगू चांद थी और चांद ही रहेंगी।”

“इज्जत से जीने का किसी से डरने का नहीं। न पुलिस से, न एम एल से, न मंत्री से, न भड़वों से।”

“जमीन पर बैठी हुई बहुत अच्छी लग रही है तू।
आदत डाल ले। क्योंकि तेरी कुर्सी तो गई।”

“मैं गंगूबाई प्रेजिडेंट कमाठीपुरा, कुंवारी आपने छोड़ा नहीं और श्रीमती किसी ने बनाया नहीं।”

पुराने ट्रेलर के ये डायलॉग्स ने जो सनसनी फैलाई थी वह बाकमाल थे। संजय लीला भंसाली जाने जाते हैं ऐसी ही फिल्मों के लिए जिनमें भव्यता हो। जिनमें नयापन हो। लेकिन अक्सर वे इसी के चलते विवादों में भी फंसते रहे हैं।

दोनों ट्रेलर को देखें तो नए वाले ट्रेलर से यह आभास होता है कि अपने पहले ट्रेलर पर आई प्रतिक्रियाओं या उसे रिलीज करने के बाद उठ रहे विवादों के चलते उन्होंने कुछ बदलाव किया है। ये सब तो फ़िल्म के रिलीज होने के बाद ही साफ हो सकेगा। वैसे जब इस फ़िल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ तो यूट्यूब पर ढेरों गंगूबाई को लेकर वीडियोज बनने लगे। कमाठीपुरा के लोग भी विवाद और बहस पर उतारू हो गए। पिछले ट्रेलर को अब तक 40 मिलियन से ज्यादा बार देखा जा चुका है। जबकि नए ट्रेलर को रिलीज हुए अभी कुछ ही घण्टे हुए हैं कि यह एक बार फिर से नंबर वन की और जाता नजर आ रहा है। इस पर अब तक 15 मिलियन से ज्यादा व्यूज आ चुके हैं।

दोनों ही ट्रेलर को देखते हुए आलिया भट्ट की दमदार एक्टिंग भी देखने को मिलेगी ऐसी सम्भावना को भी बल मिल रहा है। नए ट्रेलर में आलिया के अलावा अजय देवगन को भी इस बार दिखाया गया है। कास्टिंग एक बार फिर से उम्दा नजर आ रही है लेकिन अजय देवगन जरूर आलिया के सामने फीके पड़ेंगे यह भी आप देखकर अंदाज लगा सकते हैं। वहीं विजय राज उन्हें असली चुनौती देंगे यह भी सच है। बाकी दोनों ही ट्रेलर में भव्यता भी है। वैसे भी यह फ़िल्म ओटीटी पर रिलीज होती तो दर्शक जो संजय लीला भंसाली के फैन हैं वे उनकी सिने जादूगरी को बड़े पर्दे पर देखने से चूक जाते।

संजय लीला भंसाली यूँ भी बड़े पर्दे पर सनसनी मचाने वाले फिल्मकार के रूप में ही जाने जाते हैं और उनकी फिल्मों को देखने का जो मजा थियेटरों में मिलता है दर्शकों को वह किसी ओटीटी या टेलीविजन आदि पर नहीं। उम्मीद है जितने भी विवाद इस फ़िल्म को लेकर पिछले एक साल में हुए हैं वे अब नहीं होंगे। या उन विवादों की आग में एक बार फिर से संजय लीला भंसाली को नहीं झुलसना पड़ेगा।

साथ ही रेट्रो लाइफ का जो जमाना है वह भी इस ट्रेलर में पुनः जीवंत सा होता नजर आ रहा है।

अपनी रेटिंग – 3.5 स्टार

About the author

Bollywoodlocha Team

If you love gossips , controversial or good news about bollywood , then this is the best place for you to read latest bollywood news. We care about your entertainment.