Sunday, December 5, 2021

इस प्लेटफॉर्म पर चल रहा है दुनिया का सबसे बड़ा ‘फ़िल्म फेस्टिवल’

डिज़्नी प्लस हॉट स्टार पर 16 अक्टूबर से 27 नवंबर तक एक ऑनलाइन ‘रूसी इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल’ का आयोजन हो रहा है। इस फेस्टिवल में दस बेहतरीन रूसी फिल्मों का प्रीमियर किया गया है जिन्हें आप 27 नवंबर तक देख सकते हैं।

अब एक काम की बात अगर आपके पास जियो का नंबर है मेरी तरह और साल भर का रिचार्ज करवा सकते हैं तो आप उस एक साल साल के रिचार्ज को करवाकर इस फेस्टिवल का आनंद फ्री में उठाने के हकदार बन जाएंगे। साथ ही इसके ‘डिज़्नी प्लस हॉट स्टार’ पर उपलब्ध सभी उम्दा फ़िल्म, वेबसीरीज आदि भी देख सकेंगे। बाकी कचरा देखने के शौक़ीन हैं तो वो भी मिल जाएगा।

रूस को लेकर केवल फ़िल्म जगत में ही नहीं बल्कि राजनीतिक, सांस्कृतिक दृष्टि से भी भारत में महत्व दिया गया है। और हूबहू यही हाल रूस का भी है कि वह हर मोर्चे पर भारत को अपना दोस्त, भाई, हमसफ़र मानकर ट्रीट करता है। अब फ़िल्म जगत में जब फ़िल्म फेस्टिवल्स का आयोजन तेजी से जोर पकड़ता जा रहा है, पिछले एक दशक से। तो ऐसे में इस कोरोना के शांतिकाल दौर में फेस्टिवल वो भी इंटरनेशनल स्तर का आपके घर, टीवी, मोबाइल के स्क्रीन तक आ पहुंचा है।

इस रूसी फ़िल्म फेस्टिवल 2021 में भारत की ओर से फ़िल्म निर्देशक, लेखक ‘इम्तियाज अली’ को ब्रांड एंबेसडर यानी राजदूत नियुक्त किया गया है। इम्तियाज अली की फिल्मों के स्तर को देखते हुए सम्भवतः यह फैसला लिया गया होगा। खैर अपने शुरूआती करियर में टीवी की दुनिया से जुड़ने वाले लेखन, निर्देशन करने वाले इम्तियाज जी टीवी के शो ‘कुरुक्षेत्र’ और स्टार प्लस के शो ‘इम्तिहान’ के निर्देशक रह चुके हैं। साल 2005 में उन्होंने अपने डायरेक्टोरियल डेब्यू फिल्म ‘सोचा ना था’ से किया था।

अली की फिल्में हमेशा से ही अलग तरह की रही हैं। यही कारण है कि उनकी फिल्मों का इंतजार भी सभी को रहता है। आपको बता दें कि फेस्टिवल के इस एक हिस्से के रूप में, विभिन्न शैलियों की दस उल्लेखनीय रूसी फिल्मों का भारतीय दर्शकों के लिए 16 अक्टूबर से 27 नवंबर तक डिज्नी+ हॉटस्टार पर प्रीमियर किया गया है।

इन प्रीमियर की जा चुकी फिल्मों के नाम हैं –

1. जेटलोग (Jetlog)
2. अनदर वूमेन (Another Women)
3. टेल हर (Tell Her)
4. द स्टोरी ऑफ अपॉइंटमेंट (The Story of Appointment)
5. द रिलेटिव्स (The Relatives)
6. ऑन द एज (On The edge)
7. डॉक्टर लीजा (Doctor Liza)
8. अ मैन फ्रॉम पोडोलस्क (A Man From Podolsk)
9. आइस (ICE)
10. आइस-2 (ICE-2)

हमारे भारतीय सिनेमा के कलाकारों में से ‘राज कपूर’ और ‘मिथुन चक्रवर्ती’ जैसे फिल्मी सितारे भी रूस में बहुत लोकप्रिय रहे हैं और वहीं रूसी संगीत और सिनेमा भारत में भी लोकप्रिय संस्कृति का हिस्सा रहे हैं।

‘लव आज कल’, ‘जब वी मेट’, ‘रॉकस्टार’ जैसी फिल्मों के लिए जाने जाने वाले फिल्म निर्माता इम्तियाज अली ने इस फेस्टिवल के आयोजन किए जाने तथा स्वयं को ब्रांड एंबेसडर बनाने को लेकर कहा कि “मैं सभी भारतीय दर्शकों को 16 अक्टूबर से दो महान संस्कृतियों के बीच की सिनेमाई पहचान में आप सभी को आमंत्रित करता हूं।”

वहीं, रूस की ओर से भी बयान आया। रूसी संघ के संस्कृति मंत्री ‘ओल्गा हुसिमोवा’ ने कहा कि रूसी फिल्म महोत्सव विदेशों में घरेलू सामग्री को बढ़ावा देने के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक है। और अंतरराष्ट्रीय दर्शक रूसी फिल्मों और एनीमेशन में रुचि दिखाते रहे हैं। रूस और भारत पहले से ही ब्रिक्स के माध्यम से छायांकन के क्षेत्र में सहयोग कर रहे हैं। मुझे यकीन है कि त्योहार के मौसम में इस सुविधाजनक ऑनलाइन प्रारूप के लिए धन्यवाद। हम रूसी परियोजनाओं के दर्शकों का विस्तार करने और नए दर्शकों को आकर्षित करने में सक्षम होंगे।

जबकि इस रूसी फिल्म महोत्सव के फेस्टिवल डायरेक्टर ‘सरफराज आलम’ ने कहा कि वे भविष्य में रूस से नियमित रूप से भारत में फिल्में लाने का इरादा रखते हैं। यह फिल्म समारोह उन्हें तलाशने और आनंद लेने के लिए एक नया रूप प्रदान करता है। इस उत्सव का आयोजन 2020 में शुरू किया गया था और पहले से ही कई हजारों से अधिक दर्शकों के साथ यह 14 देशों में सफलतापूर्वक आयोजित किया जा चुका है।

इतना ही नहीं रूस एक ओर इतिहास रचने जा रहा है। फिल्मी दुनिया से आने वाली खबरें बता रही हैं कि रूस, पहली बार ‘अंतरिक्ष’ में फिल्म की शूटिंग भी करने जा रहा है। रूस मानव इतिहास में पहली बार अंतरिक्ष पर फिल्म की शूटिंग करके एक इतिहास तो अवश्य बना ही लेगा। फिर भले पूरी फिल्म वहीं पर शूट हो या उसका कुछ हिस्सा मात्र ही। इस फिल्म का नाम ‘द चैलेंज’ रखा गया है।

यह मानव इतिहास में पहली बार किसी देश द्वारा सम्भव किया जा रहा है जिसके बारे में शायद ही इससे पहले किसी ने कल्पना की हो। अमेरिका जैसे देश को अंतरिक्ष क्षेत्र में पीछे छोड़नी की कोशिश के तहत रूस यहां एक फिल्म बना रहा है। हालांकि राजनीति के स्तर पर ये दोनों देश एक दूसरे से दुश्मनी रखते ही हैं जो कि जगजाहिर है। लेकिन फ़िल्म बनने के बाद जब इतिहास स्थापित होगा तो इससे होने वाली जलन की खट्टी डकारें भी अमेरिका जरूर मारेगा आलोचना के तौर पर।

The world's largest 'film festival' is running on this platform

बताया जा रहा है कि फिल्म की शूटिंग अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आई एस एस) में होगी। अगर ये मिशन सफलतापूर्वक पूरा होता है, तो रूसी चालक दल हॉलीवुड के उस प्रेजेक्ट से आगे निकल जाएंगे, जिसकी घोषणा इस साल के शुरू में की गई थी।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ‘नासा’ और ‘एलन मस्क’ की कंपनी स्पेसएक्स ने अभिनेता ‘टॉम क्रूज’ के साथ एक प्रोजेक्ट पर काम करने का ऐलान किया था। जिसकी शूटिंग अंतरिक्ष में की जानी थी। अब यह शूटिंग जब होगी तब होगी लेकिन इस फ़िल्म में रूसी स्टार अभिनेत्री ‘यूलिया परेसिल्ड’ (Yulia Peresild) और 38 साल के डायरेक्टर ‘क्लिम शिपेंको’ (Klim Shipenko) भी शामिल होंगे।

फ़िल्म के बारे में ज्यादा जानकारी बाहर नहीं आई है अब तक लेकिन फ़िल्म की टीम मेम्बर की ओर से कहा गया है कि चालक दल 12 दिन के मिशन के लिए सोयूज एमएस -19 अंतरिक्ष यान से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए रवाना होगा। जिस फिल्म की शूटिंग की जाएगी, उसका नाम ‘द चैलेंज’ होगा। फिल्म के कई अलग-अलग सीन वहां फिल्माए जाएंगे। फिल्म में एक महिला डॉक्टर की कहानी दिखाई जाएगी, जो अंतरिक्ष यात्री को बचाने के लिए आईएसएस जाती है। इस कहानी के बारे में रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रोसकोसमोस (Roscosmos) ने जानकारी दी थी।

अब पुनः लौटते हैं मुद्दे की बात पर तो इन बीते कुछ वर्षों में, रूसी सिनेमा कई मायनों में विकसित हुआ है और अब लगभग सभी उम्र के दर्शकों के लिए इसमें विविध और दिलचस्प सामग्री पेश करने की कुव्वत नजर आने लगी है। फिल्म मंच पर प्रतिभाशाली रूसी निर्देशकों की एक नई पीढ़ी मौजूद है; वे कई वैश्विक मुद्दों पर आधुनिक प्रवृत्तियों और नए दृष्टिकोणों के साथ महान सांस्कृतिक और ऐतिहासिक विरासत को उत्कृष्ट रूप से मिश्रित करते हुए दिखाने का प्रयास करते भी नजर आ रहे हैं।

यह रूसी फिल्म महोत्सव रूसी फिल्म उद्योग के लिए एक नए युग का प्रतीक जैसा है। हमारा मिशन रूसी सिनेमा को दुनिया में फिर से पेश करना है और सभी महाद्वीपों के फिल्म प्रशंसकों को विभिन्न रूसी फीचर फिल्मों, टीवी श्रृंखलाओं और एनीमेशन का आनंद लेने देना है।

आर.एफ.एफ (RFF) यानी रूसी फ़िल्म फेस्टिवल एक हाइब्रिड प्रारूप में आयोजित किया जा रहा है, जो सबसे बड़े वीओडी प्लेटफार्मों और अंतरराष्ट्रीय त्योहारों के साथ साझेदारी में ऑनलाइन और ऑफलाइन घटनाओं को जोड़ रहा है। महामारी और लॉकडाउन के कारण आज की असहज परिस्थितियों में, हम अपने रहने वाले कमरे में आराम से रहकर, फ़िल्म के माध्यम से बाहर जाने और यात्रा करने का यह अवसर पाकर खुश हैं।

रूसियों को अपने सिनेमा पर गर्व है। सोवियत क्लासिक्स से लेकर आधुनिक मास्टरपीस तक, रूसियों के साथ दोस्ती करते समय फिल्में हमेशा एक अच्छा आइसब्रेकर होती हैं। जहां फिल्में होती हैं, वहां फिल्म फेस्टिवल जरूर होते हैं। रूस में फिल्म-संबंधी घटनाओं का कैलेंडर छिपे हुए रत्नों से भरा है। रूस द्वारा कई सर्वश्रेष्ठ फिल्म समारोहों का आयोजन किया जाता है, जिन्हें रूस ऑफलाइन तरीके से पेश करता है।

1. मॉस्को इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (एमआईएफएफ)
2. मॉस्को इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (पहली बार 1935 में जूरी के अध्यक्ष के रूप में सर्गेई ईसेनस्टीन के साथ आयोजित किया गया था। यह वेनिस फिल्म फेस्टिवल के ठीक बाद दुनिया का दूसरा सबसे पुराना फिल्म फेस्टिवल है।)
3. स्टाम्प-मास्को इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल-1963
4. फलहेरटीआन/ फ़्लाहर्टियाना (Flahertiana) यह एक डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म फेस्टिवल है।
5. आर्ट डॉक फेस्ट (ArtDocFest)
6. किनोटवार फेस्टिवल (Kinotavr) यह रूस के सोची प्रांत में होता है हर साल। इसका पहला संस्करण 1991 में हुआ था। हर साल सोची रूसी सिनेमा की राजधानी बन जाती है, जो सबसे चमकीले फिल्मी सितारों और सबसे समर्पित दर्शकों को आकर्षित करती है। चूंकि त्योहार जून में होता है, यह उन लोगों के लिए एक आदर्श गंतव्य है जो महान फिल्मों और समुद्र तट की छुट्टियों के शौकीन हैं – सोची रूस में सबसे बड़े समुद्र तट रिसॉर्ट्स में से एक है।
7. कंसक अंतर्राष्ट्रीय फेस्टिवल (International Kansk Festival) यह रूस के सबसे खूबसूरत स्थान साइबेरिया में आयोजित किया जाता है।

Tejas Poonia
लेखक - तेजस पूनियां स्वतंत्र लेखक एवं फ़िल्म समीक्षक हैं। साहित्य, सिनेमा, समाज पर 200 से अधिक लेख, समीक्षाएं प्रतिष्ठित पत्रिकाओं, पोर्टल आदि पर प्रकाशित हो चुके हैं।

Related Articles

Stay Connected

21,986FansLike
3,042FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles