Monday, October 25, 2021

सारा अली खान ने पढ़ी नमाज, मंदिर के किए दर्शन, कहा अगर धरती पर कहीं स्वर्ग है तो यहीं है

सारा अली खान ने दरगाह में नमाज अदा, मंदिर के किए दर्शन, गुरुद्वारा पर टेका माथा, शेयर की तस्वीरें।

जहांगीर ने फारसी में एक बार कहा था, ‘गर फिरदौस बर रुए ज़मीं अस्त, हमीं अस्तो, हमीं अस्तो, हमीं अस्त’ अर्थात अगर धरती पर कहीं स्वर्ग है तो यहीं है, यहीं पर है और सिर्फ यहीं पर है। उस स्वर्ग से ही सारा अली खान ने तस्वीरें अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से शेयर करते हुए ऐसा ही लिखा।

बता दें कि बॉलीवुड एक्ट्रेस सारा अली खान फिल्म इंडस्ट्री में एक जाना-पहचाना नाम हैं। उनकी खूबसूरती का हर कोई दीवाना है। एक के बाद एक वह कई फिल्में भी करती रही हैं। लेकिन वे अपने व्यस्तम समय में भी अपने लिए समय निकालना नहीं भूलतीं। इसलिए वह अक्सर अपनी फिल्मों की शूटिंग खत्म करने के बाद किसी ट्रिप पर दोस्तों के साथ निकल जाती हैं। कुछ समय पहले उन्हें मालदीव में स्पॉट किया गया था। जहां वे अपने दोस्तों के साथ हॉलीडे मना रही थीं। सारा ने इस दौरान अपने फैंस के साथ मालदीव में अपनी खूबसूरत तस्वीरों को शेयर भी किया था। मालदीव के बाद वे कश्मीर ट्रिप पर हैं। और कश्मीर उनकी हॉटनेस से गर्म होकर पिघल रहा है।

इस ट्रिप की कई तस्वीरें भी उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की हैं। साथ ही कैप्शन में लिखा है- अगर धरती पर कहीं स्वर्ग है तो यहीं है, यहीं पर है और सिर्फ यहीं पर है।

शेयर की गई तस्वीरों में सारा दरगाह में नमाज अदा करने से लेकर, मन्नत का धागा भी बांधती दिख रही हैं। इसके अलावा उन्होंने चर्च, गुरुद्वारा और मंदिर की भी झलकियां शेयर की हैं। जिनमें वे हाथ जोड़कर खड़ी नजर आ रही हैं। सारा ने इस पोस्ट में ‘सर्व धर्म सम भाव’ की बात कही है।

सारा अली खान ने अपने कैप्शन में जहांगीर के फारसी में कही गई बात लिखी है। सारा अली खान ने लिखा है, ‘गर फिरदौस बर रुए ज़मीं अस्त, हमीं अस्तो, हमीं अस्तो, हमीं अस्त’ यानी अगर धरती पर कहीं स्वर्ग है तो यहीं है, यहीं पर है और सिर्फ यहीं पर है।’ इसी पोस्ट में सारा ने लिखा है, ‘Sarv Dharm Sambhav सर्व धर्म सम भाव।’

सारा अली खान जल्द ही आगामी फिल्म ‘अतरंगी रे’ में नजर आने वाली हैं। इस फिल्म में अक्षय कुमार के साथ साउथ इंडियन एक्टर धनुष के साथ वे स्क्रीन साझा करती दिखाई देंगी।

Tejas Poonia
लेखक - तेजस पूनियां स्वतंत्र लेखक एवं फ़िल्म समीक्षक हैं। साहित्य, सिनेमा, समाज पर 200 से अधिक लेख, समीक्षाएं प्रतिष्ठित पत्रिकाओं, पोर्टल आदि पर प्रकाशित हो चुके हैं।

Related Articles

Stay Connected

21,986FansLike
2,991FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles