Tuesday, September 27, 2022

राजस्थान इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल में ‘नमक’ ने जीते सबसे ज़्यादा चार ईनाम

प्रतिष्ठित राजस्थान इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल का आठवां संस्करण इस बार फिर से जोधपुर में आयोजित हुआ। 25 से 30 मार्च तक चले इस फेस्टिवल में ढेरों नेशनल, इंटरनेशनल फिल्में विभिन्न कैटेगरी में प्रदर्शित की गई। जिसमें शॉर्ट फिल्म, फीचर फिल्म्स, डॉक्यूमेंट्री फिल्म्स की स्क्रीनिंग सफलता पूर्वक की गई।

इस फ़िल्म फेस्टिवल की खास बात यह है कि यह 25 से 30 मार्च के बीच ही आयोजित किया जाता है। चूंकि30 मार्च को राजस्थान दिवस भी होता है। और उसी दिन इस फेस्टिवल में सभी प्रदर्शित की गई फिल्मों को पुरुरस्कार वितरित किये जाते हैं। इस बार इसके आठवें संस्करण में राजस्थान के रहने वाले लेखक, निर्देशक ‘तनुज व्यास’ की फीचर फिल्म करीबन 74 मिनट लम्बी फ़िल्म ‘नमक’ को बेस्ट राजस्थानी फीचर फिल्म के अलावा , बेस्ट एक्टर , बेस्ट एक्ट्रेस तथा बेस्ट सिनेमेटोग्राफी के कुल चार अवॉर्ड दिए गए।

‘नमक’ फ़िल्म राजस्थानी भाषा में बनी है और इस फ़िल्म में राजनीति, प्रेम तथा राजस्थान की खारी झील के किनारे बसे गांव खारपुर में रहने वाले दो प्रेमी जोड़ों की कहानी कही गई है।

'Namak' won the maximum four awards at the Rajasthan International Film Festival

बेस्ट फीचर फिल्म के अलावा बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड फ़िल्म में लीड रोल करने वाले थियेटर कलाकार ‘नेमीचं’ को दिया गया। साथ ही बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड राजस्थान की ही थियेटर से जुड़ी कलाकार ‘पूजा जोशी’ को मिला। इन दोनों ने इस फ़िल्म में लीड रोल अदा किया है। तथा फ़िल्म के लिए छायांकन करने वाले सिनेमैटोग्राफर ‘ध्रुव सांखला’ को बेस्ट सिनेमेटोग्राफी का अवॉर्ड मिला। बताते चलें कि ‘नमक’ फ़िल्म क्राउड फंडिंग से बनी है। और इसकी शूटिंग खारपुर एवं जोधपुर में पूरी की गई है।

फ़िल्म के निर्देशक ‘तनुज व्यास’ ने इससे पहले ‘अन्नू कपूर’ के पॉपुलर शो ‘सुहाना सफर विद अन्नू कपूर’ के लिए करीबन 40 शोज लिखे हैं। इस मुबारक मौके पर निर्देशक ‘तनुज व्यास’ ने बताया कि पहले फ़िल्म की स्क्रिप्ट हिंदी में लिखी गयी थी, लेकिन सांभर-नावा शहर की लोकेशन देखकर विचार आया कि अगर इस फ़िल्म की भाषा राजस्थानी हो, तभी कहानी इस ज़मीन के साथ न्याय कर पाएगी।

Tejas Poonia
Tejas Poonia
लेखक - तेजस पूनियां स्वतंत्र लेखक एवं फ़िल्म समीक्षक हैं। साहित्य, सिनेमा, समाज पर 200 से अधिक लेख, समीक्षाएं प्रतिष्ठित पत्रिकाओं, पोर्टल आदि पर प्रकाशित हो चुके हैं।

Related Articles

Stay Connected

21,986FansLike
3,503FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles