Sunday, December 5, 2021

रिव्यू : ख़्वाबों की कश्ती में सवार ‘आफ़त-ए-इश्क़’

तीन अलग-अलग ओटीटी प्लेटफॉर्म पर आज तीन अलग-अलग फिल्में रिलीज़ हुई है। ज़ी5 पर रिलीज हुई ‘आफ़त-ए-इश्क’ अपने नाम के अनुरूप इश्क की कहानी को समेटे हुए है। तो आइए जानते हैं बॉलीवुड लोचा के साथ कि कैसी है ये फ़िल्म।

इब्तिदाई इश्क है रोता है क्या
आगे आगे देखिए होता है क्या

किसी शायर ने यह सही ही शायरी कही थी। जो हमेशा कालजयी रहेगी। अब इस फ़िल्म को ही लीजिए। अब जिस फ़िल्म का नाम ही ‘आफ़त-ए-इश्क’ है, उसमें तो आफ़त आनी ही है न। तो लो जी आ गई आफत और वो भी एक नहीं, दो नहीं कई सारी। लिहाजा इसे आफ़त-ए-इश्क़ कहने की बजाए ‘आफ़तें इश्क’ कहिए।

एक लड़की है लल्लो नाम की। नाम लल्लो है लेकिन दिमाग से भी उतनी ही लल्लू आई मीन लल्लो ही है। एक बार वह लाल परी की कहानी पढ़ती है। तभी देखती है कि जैसे वो असल जिंदगी में किताबें तलाशती है और किताबों में असल जिंदगी। तो उसकी कहानी भी उस लाल परी की कहानी की तरह पलटी खाती है। लाल परी कहानी की नायिका को सच्चा प्यार नहीं मिल पाया था इसलिए अब कोई उसके करीब आता तो वह मारा जाता। ठीक ऐसा ही इस लड़की के साथ भी होता है।

movie review Aafat-e-ishq full movie download leaked by tamilrockers

उस लल्लो के साथ उसका एक पड़ोसी भी है आत्माराम। जो सच में आत्मा ही है। एक दिन लल्लो को एक फोन पड़ा मिला उसे वो ले आई उठाकर तो उस आत्माराम की आत्मा भी उस फोन के साथ घर आ गई। जब फोन में गाना बजता तो वो आत्माराम नाचने लगता। जैसे कि फ़िल्म की कहानी कहती है जिसका कोई नहीं होता उसके भूत होते हैं। लेकिन हमारे भारत की संस्कृति में कहा जाता है, जिसका कोई नहीं होता उसके भगवान होते हैं।

लाल परी को दरअसल एक निस्वार्थ प्रेमी का साथ चाहिए। जिससे कि उसका अभिशाप एक वरदान में तब्दील हो जाए। फिर एक तरफा प्रेम भी तो कभी सफल नहीं होता। इसलिए लालपरी को भी अपने प्रेमी से निःस्वार्थ प्रेम करना होगा, तभी उसका अभिशाप वरदान में बदलेगा। तो क्या सचमुच उसका अभिशाप वरदान में बदल गया?

कल्पना से भरपूर इस फ़िल्म की कहानी को देखकर जिंदगी में कुछ राहत तो मिलेगी आपको भी। और अगर आप पहले से ही कल्पनाओं में जीते हैं तो आपको फ़िल्म देखने की भी जरूरत नहीं फिर तो ऐसे ही राहतें हैं आपके।

वैसे इस शुक्रवार डिज्नी प्लस हॉट स्टार, अमेजन प्राइम , ज़ी5 तीनों भईयों ने मनोरंजन की खुराक अपने-अपने हिसाब से दर्शकों के सामने परोसी है। अब कौन इनमें आगे निकलेगा या किसकी कहानी सराही जाएगी यह तो वक्त बताएगा।

movie review Aafat-e-ishq full movie download leaked by tamilrockers

आफ़त-ए-इश्क़ में एक्टिंग की है नेहा शर्मा, गरिमा जैन, अमित सियाल, इला अरुण, दीपक डोबरियाल, नमित दास ने, सभी ने अपना उम्दा प्रदर्शन भी किया है। फ़िल्म की सिनेमेटोग्राफी भी बढ़िया है। बैकग्राउंड स्कोर फ़िल्म की लय, ताल, गति के साथ बखूबी कदमताल भी करता है। गाने भी ठीक हैं। वीएफएक्स काफी अच्छे हैं। कास्टिंग बरोबर है।

बावजूद इसके यह फ़िल्म आपको बीच-बीच में कहीं हाल ही में आई ‘हसीन दिलरुबा’ के जैसी लगे तो लगे हमारी बला से। इस फ़िल्म को ऐसे उस फिल्म से जोड़कर आप अपना मज़ा थोड़ा किरकिरा जरूर कर लेंगे। लिहाज़ा मजा लीजिए इस काल्पनिक कहानी को अपने परिवार संग देखने का। ख़्वाबों की दुनिया में आप भी एक चक्कर लगा ही आएंगे इसे देखते हुए यह भी लाजमी है। वैसे भी ख़्वाब कौन मूर्ख है जो नहीं देखता होगा। बल्कि मूर्ख तो वो है जो उन ख़्वाबों को पूरा करने की कोशिश करता नजर नहीं आता।

अपनी रेटिंग – 3.5 स्टार

Tejas Poonia
लेखक - तेजस पूनियां स्वतंत्र लेखक एवं फ़िल्म समीक्षक हैं। साहित्य, सिनेमा, समाज पर 200 से अधिक लेख, समीक्षाएं प्रतिष्ठित पत्रिकाओं, पोर्टल आदि पर प्रकाशित हो चुके हैं।

Related Articles

Stay Connected

21,986FansLike
3,042FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles