160 से ज्यादा इंटरनेशनल मैच खेल चुके इस क्रिकेटर ने नही मारा एक भी छक्का, नाम जानकर होगी हैरानी

0

ऐसा कौन सा भारतीय क्रिकेटर है जिसने 130 अंतर्राष्ट्रीय एकदिवसीय मैच खेले हों 39 टेस्ट मैच खेले हो और यहां तक की 2 शतक और 11 अर्धशतक लगाए हों भारतीय टीम की तरफ से वर्ल्ड कप में हिस्सा भी लिया हो फिर भी पूरे कैरियर में एक भी छक्का न मारा हो विश्ववास नहीं हो रहा होगा ये सब पढ़ने के बाद आप सोच रहें होगें लेखक ने गलत लिख दिया होगा खबर को मजेदार बनाने के लिए लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

और पढ़े: भारतीय टीम के कोच बनना चाहते हैं युवराज सिंह, गौतम गंभीर ने कहा जरुरत नही

loading...

जी हां हम बताने जा रहें उस नायब और एक मात्र भारतीय क्रिकेट के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर मनोज प्रभाकर के बारे में जिनके नाम अनोखा रिकार्ड दर्ज है कि 150 से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बावजूद वो कभी बल्लेबाजी के दौरान गेंद को हवा में ग्राउंड से बाहर मार पाए हो और ये बात और भी चकित तब कर देती जब उन्होने शतक भी मारा हो लेकिन ये सच है और मनोज प्रभाकर को ता उम्र इसका दुख भी है मनोज प्रभाकर 90 के दशक में महत्तवपूर्ण भारतीय ऑलराउंडर ने जो लगातार टीम का हिस्सा थे अपने अंतिम 16 टेस्ट मैचों में से उन्होने भारत को 10 टेस्ट मैच जीताने में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई थी।

Manoj Prabhakar

हालांकि आपको बता दें कि उनके क्रिकेट का सफर बड़े ही अविश्ववसनीय तरीके खत्म हुआ सन् 1995-96 का वर्ल्ड कप चल रहा था एक मैच में उन्होने ने 4 ओवर में 47 रन दे दिए जिसके चलते भारत को हार का सामना करना पड़ा और उन्हें टीम से ड्रॉप कर दिया गया जिसके बाद उन्होने तुरंत अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया हालांकि की इसके बाद वो भारतीय राजनीति में उतरने का प्रयास किया लेकिन लोकसभा चुनावों में सफलता नहीं मिली जिसके चलते वो वापस क्रिकेट की दुनिया में आए और राजस्थान टीम के बालिंग कोच की भूमिका को अपनाया.

और पढ़े: फोन सेक्स करके कमाएं हजारों रुपए, बस आपको एक अच्छा…

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.