बॉलीवुड

विक्रम गोखले के निधन पर भावुक हुए यशपाल शर्मा बोले उनकी इस फिल्म से प्रेरणा लेकर बनाई ‘दादा लखमी’

Got emotional on the death of Vikram Gokhale but Yashpal Sharma said taking inspiration from this film he made Dada Lakhmi

नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित, समाजसेवी एक्टर विक्रम गोखले का निधन आज 82 की उम्र में हो गया है। पुणे स्थित एक अस्पताल में कल (शनिवार) दोपहर उन्होंने अंतिम सांस ली। पुणे के वैकुंट क्रेमेटोरियम में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। यह जानकारी गोखले के एक दोस्त ने मीडिया को दी।

बताते चलें कि पिछले दिनों से खबरें आ रही थीं कि गोखले पुणे स्थित दीनानाथ अस्पताल में एडमिट है। उनका इलाज चल रहा था। हालात नाजुक बनी हुई थी। हालांकि डॉक्टर्स उन्हें बचाने की पूरी कोशिश कर रहे थे। और कुछ मीडिया हाउस ने उनके निधन के बारे में खबरें भी लिखना शुरू कर दिया था।

वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार विक्रम गोखले की तबीयत अचानक बिगड़ने के बाद उन्हें पुणे के अस्पताल दीनानाथ मंगेशकर में भर्ता कराया गया था। जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। गोखले को मल्टीपल ऑर्गन फेलियर की शिकायत थी।

परिवार भी रहा हिंदी सिनेमा में लंबे समय से सक्रिय

विक्रम गोखले का जन्म 30 अक्टूबर 1940 को महाराष्ट्र के पुणे में हुआ। उनका परिवार हिंदी सिनेमा में काफी लंबे समय से सक्रिय रहा है। विक्रम गोखले की परदादी हिंदी सिनेमा की पहली भारतीय कलाकार थीं। साथ ही उनकी दादी भी हिंदी सिनेमा में चाइल्ड आर्टिस्ट रह चुकी हैं। वर्ष 1913 में उनकी दादी ने फिल्म ‘मोहिनी भस्मासुर’ में अभिनय किया था। इस फिल्म का निर्देशन दादा साहेब फाल्के ने किया था। विक्रम एक्टर होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे। उन्होंने एक संगठन बनाया था। जिसमें वे अपाहिज सिपाहियों, बच्चों और जरूरतमंद लोगों की मदद करते थे।

vikram gokhale with his wife

मराठी नाटकों से गोखले ने की करियर की शुरुआत

गोखले ने 1960 के दशक में मराठी थिएटर नाटकों के साथ एक अभिनेता के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी। बाद में उन्होंने कई मराठी और हिंदी सिनेमा में एक शानदार कलाकार के रूप में अपनी पहचान बनाई। साल 1971 में उन्होंने अमिताभ बच्चन की फिल्म परवाना के साथ बॉलीवुड में अपनी शुरुआत की। बाद में वे कई हिट फिल्मों में नजर आए।

विक्रम गोखले ने इसके अलावा स्वर्ग-नरक, इंसाफ, अग्निपथ, नट सम्राट, खुदा गवाह, अधर्म, तड़ीपार, आंदोलन, हम दिल दे चुके सनम, भूल-भुलैया, दे दना दन, बैंग-बैंग, अय्यारी, हिचकी और अन्य कई फिल्मों में नजर आए हैं। इतना ही नहीं उन्होंने टीवी सीरियल में भी काम किया है। गोखले ने इंद्रधनुष, उड़ान, क्षितिज ये नहीं, संजीवनी, जीवनसाथी, सिंहासन, मेरा नाम करेगी रोशन और कई वेब सीरीज में भी काम किया।

बॉलीवुड में शोक की लहर

बॉलीवुड में आजकल दादा लखमी फिल्म का पहली बार निर्देशन कर चर्चा में बने हुए सुपरहिट फिल्म के निर्देशक ‘यशपाल शर्मा’ ने दुःख प्रकट करते हुए कहा कि – मैंने गोखले जी की फिल्म नट सम्राट से दादा लखमी फिल्म बनाने की प्रेरणा ली थी। यह फिल्म मुझे बेहद पसन्द आई थी। उनके साथ मैंने एक टीवी सीरियल ‘मेरा नाम करेगी रोशन’ में भी काम किया था। जिसमें उन्होंने मेरे पिता का रोल किया था। दिल के बड़े ही सज्जन और जमीन से जुड़े हुए कलाकार थे वे। एक पिता जैसा अहसास भी उनके साथ रहता था। और इस सीरियल में मैंने एक जिद्दी, बदमाश बेटा बना था जिसमें जायदाद हड़पने जैसी कहानी थी। मुझे उनके जाने का दुःख है। उनके परिवार के लिए संवेदना प्रकट करता हूं। वहीं खिलाड़ी कुमार अक्षय कुमार ने एक पोस्ट में लिखा

अक्षय कुमार ने अभिनेता को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया, ‘विक्रम गोखले जी के निधन के बारे में जानकर बहुत दुख हुआ। उनके साथ भूल भुलैया, मिशन मंगल जैसी फिल्मों में काम किया, उनसे बहुत कुछ सीखने को मिला। ॐ शांति 🙏’।

बॉलीवुड के एक अन्य चर्चित चेहरे अनुपम खेर ने कुछ इस तरह शोक प्रकट किया।

दिवंगत अभिनेता विक्रम गोखले के निधन अनुपम खेर बेहद दुखी हैं। अभिनेता ने सोशल मीडिया पर दिल टूटने वाला इमोजी साझा कर दुख जताया है।
विक्रम गोखले ! #VikramGokhale 💔💔💔

परवाना फिल्म से करियर शुरू करने वाले विक्रम गोखले नेशनल अवॉर्ड भी जीत चुके हैं

विक्रम गोखले हिंदी फिल्मों और टेलीविजन के साथ-साथ मराठी थिएटर में भी अपने प्रदर्शन के लिए जाने जाते हैं। वे मराठी थिएटर और फिल्म कलाकार चंद्रकांत गोखले के बेटे हैं। आखिरी बार उन्हें मराठी फिल्म गोदावरी में देखा गया था। वे इस साल की शुरुआत में शिल्पा शेट्टी और अभिमन्यु दसानी के साथ ‘निकम्मा’ में भी दिखाई दिए थे।

विक्रम गोखले ने साल 1971 की फिल्म ‘परवाना’ से फीचर फिल्म में डेब्यू किया था। इसमें अमिताभ बच्चन ने लीड रोल निभाया था। उन्हें मराठी फिल्म ‘अनुमति’ में अपनी परफॉर्मेंस के लिए साल 2010 में सर्वश्रेष्ठ एक्टर के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

जब ऐश्वर्या के खड़ूस पिता के रोल में छा गए विक्रम

विक्रम गोखले ने यूं तो सैकड़ों हिंदी फिल्मों में काम किया है लेकिन संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘हम दिल दे चुके सनम’ में एश्वर्या के पिता के रोल में वो ज्यादा फेमस हुए। उन्होंने एक गुस्सैल, रुढ़िवादी और सख्त पिता का रोल निभाया जो आज भी लोगों को याद है। इसके अलावा तुम बिन फिल्म में विक्रम गोखले की एक्टिंग को खूब सराहा गया था।vikram gokhale hum dil chuke sanam

बता दें कि विक्रम गोखले पुणे में एक एक्टिंग स्कूल चलाते थे। वो पिछले कई सालों से पत्नी के साथ वही रह रहे थे। इस दिवंगत अभिनेता के परिवार में उनकी दादी और पिता मराठी सिनेमा और स्टेज के काफी जाने माने अभिनेता थे। विक्रम गोखले के लिए कहा जाता है कि उनकी दमदार आवाज और उनकी बड़ी-बड़ी आंखें किसी भी बेजार किरदार में जान फूंक देती थीं।

बता दें कि पहले भी विक्रम गोखले के निधन की खबरें आई थीं। बॉलीवुड सेलेब्स ने तो इस पर दुख प्रकट करना शुरू कर दिया था जिसके बाद परिवार ने साफ कहा कि वो अभी भी हमारे बीच हैं निधन की खबरें झूठी हैं और डॉक्टर्स उन्हें बचाने के हर संभव कोशिश कर रहे हैं।

इन फिल्मों में रहे खासे चर्चित

‘आघात’

मराठी फिल्म ‘अघात’ ने विक्रम गोखले के निर्देशन की शुरुआत की, जिन्होंने फिल्म में लीड रोल प्ले किया। फिल्म 2010 में रिलीज़ हुई थी। प्राइवेट अस्पतालों में एक नौकरशाही की भावना के खिलाफ सेट, फिल्म डॉक्टरों से संबंधित अहंकार के मुद्दों पर प्रकाश डालने के साथ-साथ रोगियों और उनके परिवारों के प्रति प्रशासन के व्यवहार के संवेदनशील मुद्दों को दिखाती है।

‘नटसम्राट’

महेश मांजरेकर निर्देशित इस मराठी फिल्म में विक्रम गोखले (Vikram Gokhale) ने रामभाऊ की भूमिका निभाई थी। फिल्म की कहानी कुसुमराज के एक नाटक से ली गई थी और एक स्टेज एक्टर की दुखद कहानी सुनाई गई थी, जिन्हें अपनी रिटायरमेंट के बाद मंच पर अपने समय की क़ीमती यादों को भूलना मुश्किल हो रहा है।

Vikram Gokhale Natsmrat

‘अनुमति’

गजेंद्र अहिरे की लिखित और निर्देशित इस मराठी फिल्म में विक्रम गोखले और नीना कुलकर्णी ने लीड किया था। फिल्म की दिल दहला देने वाली साजिश का ऐसा असर हुआ कि विक्रम गोखले को बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड मिला। कहानी एक ऐसे आजमी की विनाशकारी है, जो कोमा में चली गई अपनी पत्नी के अस्पताल के बिल का भुगतान करने के लिए किसी भी हद तक जाता है। जब तक मदद पहुंचती है, तब तक वह आदमी खाने की टेबल पर गिरा हुआ पाया जाता है।

‘अग्निपथ’

मुकुल आनंद की निर्देशित ‘अग्निपथ’ में अमिताभ बच्चन को विजय दीनानाथ चौहान के रूप में दिखाया गया है, जो अंडरवर्ल्ड में शामिल होकर अपने पिता की मौत का बदला लेने के लिए एक उग्र रास्ते पर निकल पड़ते हैं। 1990 में वापस रिलीज़ हुई फिल्म में विक्रम गोखले ने क्राइम एक्शन में कमिश्नर एमएस गायतोंडे की भूमिका निभाई थी।

‘हम दिल दे चुके सनम’

लीड रोल्स में ऐश्वर्या राय, सलमान खान और अजय देवगन की रोमांटिक फिल्म विक्रम की सबसे बड़ी फिल्मों में से एक है। संजय लीला भंसाली की फिल्म की कहानी ऐसे आदमी के जीवन को दिखाती है, जिसे पता चलता है कि उसकी पत्नी किसी और से प्यार करती है। पति उन प्रेमियों को फिर से मिलाने के लिए निकल जाता है। विक्रम गोखले को नंदिनी के पिता की भूमिका निभाते हुए देखा गया था। उन्होंने एक शास्त्रीय गायक पंडित दरबार की भूमिका निभाई थी। उनका वो रोल आज भी याद किया जाता है।

मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यू आदि से संबंधित खबरों के साथ बने रहें बॉलीवुड लोचा के साथ। विक्रम गोखले के निधन पर दुःख प्रकट करता हूं। साथ ही ईश्वर से प्रार्थना की उनको अपने चरणों में स्थान दें।

About the author

Bollywoodlocha Team

If you love gossips , controversial or good news about bollywood , then this is the best place for you to read latest bollywood news. We care about your entertainment.

Leave a Comment