Monday, October 25, 2021

वेश्याओं की कहानी के साथ सिनेमा के इस बड़े निर्देशक की ओटीटी पर एंट्री

ओटीटी पर मैग्नम ऑप्स ‘हीरामंडी’ के साथ एंट्री कर रहे हैं संजय लीला भंसाली

संजय लीला भंसाली आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। उन्होंने हिंदी सिनेमा को एक से बढ़कर एक हिट और ब्लॉकबस्टर फिल्में दी हैं। साथ ही उनमें से कई विवादित भी रही हैं। हालांकि भंसाली का विवादों से चोली दामन का साथ रहा है। बावजूद इसके वे लगातार ऐसी कहानियां और फिल्में दर्शकों और अपने फैन्स के लिए लगातार बनाते रहे हैं जो विवादित हों या किसी खास वर्ग को पसन्द न आए।

बड़ा बजट और 70 एम एम के पर्दे पर भव्यता के साथ अपनी कहानी कहने की उनकी कला आलोचकों को भी खासी पसंद आती हैं। ‘रामलीला: गोलियों की रासलीला’, ‘जोधा अकबर’, ‘पद्मावत’, ‘बाजीराव मस्तानी’ जैसी सुपरहिट और भव्यता के साथ बिग बजट फिल्में देने वाले फिल्म मेकर, प्रोड्यूसर संजय लीला भंसाली के फैंस के लिए अब एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है।

भंसाली अब तक ओटीटी (OTT) पर फ़िल्म रिलीज करने से हिचक रहे थे। लेकिन अब उन्होंने अपने नए प्रोजेक्ट के साथ ओटीटी डेब्यू का फैसला किया है। इतना ही नहीं कल उन्होंने अपने पहले OTT प्रोजेक्ट को लेकर ऐलान भी कर दिया। उनकी आगामी मैग्नम ऑप्स ‘हीरामंडी’ उनकी पहली वेब सीरीज है, जो जल्द ओटीटी पर रिलीज होने वाली है

हालांकि भंसाली अपनी फिल्म ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ को लेकर पिछले दिनों सफाई दी थी कि वे इस फ़िल्म को भले देर से सही थिएटरों में ही रिलीज करेंगे। अब जो भी हो दर्शक और भंसाली को पसन्द करने वाले उनकी आगामी वेब सीरीज का भी बेसब्री से इतंजार कर रहे हैं।

Director Sanjay Leela Bhansali's entry on OTT with magnum ops 'Heera Mandi'

भंसाली ने अपने इस एलान के साथ ही कुछ यादों को भी साझा किया है। संजय ने कहा, ‘मुझे याद है जब मैं चार साल का था तब मेरे पिता मुझे एक शूटिंग पर लेकर गए थे। उन्होंने भंसाली से कहा कि तुम यहां बैठो और मैं अपने दोस्तों से मिलकर आता हूं। मैं स्टूडियो में अंदर था और मुझे यहां सब बड़ा आरामदायक लग रहा था। एक स्कूल, एक खेल का मैदान, एक चचेरे भाई का घर, मुझे यह दुनिया कि सबसे खूबसूरत जगह लगी। जब मैं 25 साल पीछे मुड़कर देखता हूं, तो मुझे लगता है कि यह बहुत कीमती है।’

फ़िल्म की दुनिया और स्टूडियो से जुड़ने को लेकर आगे उन्होंने कहा कि ‘मैं स्टूडियो से जुड़ा हुआ हूं क्योंकि स्टूडियो का फर्श सबसे जादुई होता है। यही मेरा मंदिर है, यही मेरा सब कुछ है।’ बता दें कि इससे पहले जब वे अपनी फ़िल्म ‘पद्मावत’ की शूटिंग राजस्थान में कर रहे थे तो एक संस्था के द्वारा उन्हें थप्पड़ भी खाना पड़ा था। लेकिन लगता है भंसाली ने उस जोरदार तमाचे का बदला लेने के लिए ही ‘गंगूबाई’ जैसी कहानी पर फ़िल्म बनाई जो कोरोना के कारण बन्द पड़े आधे से ज्यादा सिनेमाघरों के कारण रिलीज़ के लिए इंतजार कर रही है। शायद भंसाली भी चाहते हैं कि उनकी फिल्म पूरे भारत में एक साथ रिलीज हो।

खैर वेब सीरीज ‘हीरामंडी’ का एलान करते समय उन्होंने आगे कहा कि ‘हीरामंडी’ एक ऐसी कहानी थी जो 14 साल पहले मेरे दोस्त ‘मोईन बेग’ ने मुझे 14 पेज की कहानी के रूप में दी और आखिरकार जब हमने इसे नेटफ्लिक्स के सामने पेश किया, तो उन्होंने इसे पसंद किया और उन्हें लगा कि इसमें एक मेगा सीरीज जैसी काफी संभावनाएं हैं।

नेटफ्लिक्स के लिए बनाई जा रही यह सीरीज भंसाली के लिए हमेशा की तरह बाकी प्रोजेक्ट्स की तरह बहुत ही महत्वाकांक्षी है, इस सीरीज के कई सीजन आने की सम्भावना भी भंसाली ने अपने एलान से जताई है। इस सीरीज की कहानी में दर्शकों को वेश्याओं के संगीत, कविता, नृत्य और जीवन जीने की कला दिखाई जाएगी। इसके साथ ही यह वेश्यालय के भीतर की राजनीति को भी दिखाएगी।

Tejas Poonia
लेखक - तेजस पूनियां स्वतंत्र लेखक एवं फ़िल्म समीक्षक हैं। साहित्य, सिनेमा, समाज पर 200 से अधिक लेख, समीक्षाएं प्रतिष्ठित पत्रिकाओं, पोर्टल आदि पर प्रकाशित हो चुके हैं।

Related Articles

Stay Connected

21,986FansLike
2,991FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles