1983 विश्व विजेता टीम से मिले रणवीर सिंह देखें तस्वीरें

0 19

क्रिकेट हिन्दुस्तानियों के लिये धर्म बन चुका है और क्रिकेटर भगवान। क्रिकेट से संबन्धित किसी भी चीज को लेकर क्रिकेट प्रेमी नशे की हद तक चाहते हैं। पिछले दिनों धोनी और सचिन पर बनी फिल्मों का सुपरहिट होना इस बात का प्रमाण है। अब निर्देशक कबीर खान ने 1983 में जीते गये पहले वर्ल्ड कप को लेकर फिल्म बनाने का ऐलान किया है। इस अवसर पर जुहू स्थित पांच सितारा होटल जेडब्ल्यू मैरियट में एक भव्य समारोह में इस फिल्म के अनांउसमेंन्ट के मौंके पर वर्ल्ड कप से जुडे तमाम खिलाड़ी वहां मौजूद थे जैसे कप्तान कपिल देव, दिलीप वैंगसरकर, रोजर बिन्नी, यशपाल शर्मा, मदनलाल, एस श्रीकांत, मोहिन्दर अमरनाथ, सुनील वालसन, संदीप पाटिल, बलविन्दर सिंह, कीर्ती आजाद तथा मैनेजर मानसिंह। लेकिन रवि शास्त्री इंडियन टीम के कोच के तौर पर बाहर हैं, सुनील गावस्कर तथा किरमानी भी किसी कारण बाहर होने की वजह से इस ऐतिहासिक समारोह का हिस्सा नहीं बन सके। इनके अलावा निर्देशक कबीर खान प्रोडयूसर विक्रमआदित्य मोटवानी तथा विकास बहल और रणवीर सिंह मौंजूद थे।

रणवीर सिंह 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के साथ

मैं वर्ल्ड कप के बाद पैदा हुआ था

इस अवसर पर फिल्म में कपिल देव की भूमिका निभाने जा रहे रणवीर सिंह का कहना था कि मैं वर्ल्ड कप होने के बाद यानि 1985 में पैदा हुआ था लेकिन  मुझे इससे पहले वर्ल्ड कप का तो पता था लेकिन इसके पीछे के इतिहास का जरा भी नहीं पता था। जब मुझे कबीर खान ने इस बारे में बताना शुरू किया तो मेरे रौंगटे खड़े हो गये। मुझे लगा कि ये वर्ल्ड कप की नहीं बल्कि इंसानी जज़्बात की कहानी है। मैं इसका हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं। इसके बाद एक एक करके वर्ल्ड कप से जुडे़ क्रिकेटर्स ने अपने अपने वे अनुभव शेयर किये जिनके बारे में अभी तक किसी को पता नहीं था। शायद उनके लिये ये पहला ऐसा मौका था जब उनमें से हर किसी ने वो सब भी बताया जिसे हर कोई छिपाना चाहता है। इन सब के बीच कपिल देव बेचारे शर्माये से बैठे थे। जब उन्हें बोलने के लिये कहा गया तो उनका कहना था कि अब तो आप समझ गये होगें कि ऐसी टीम को हैंडल करना मेरे लिये कितना मुश्किल रहा होगा। दरअसल मैं एग्रीकल्चर बैकग्राउंड से था जबकि ये सब कल्चर बैकग्राउंड से थे।

रणवीर सिंह कपिल देव

Advertisement

वर्ल्ड कप के दौरान मेरी शादी हुई थी श्रीकांत

एस श्रीकांत ने कहा कि उस वक्त तक हमें बहुत छोटी टीम का हिस्सा माना जाता था। उसी दौरान मेरी शादी भी हुई थी। जब मुझे पता चला कि हम वर्ल्ड कप का हिस्सा बनने जा रहे हैं तो हम सभी का फैसला था कि चलो इस बहाने वेकेशन में इंग्लैड भी घूम लिया जायेगा और साथ साथ खेल भी लेगें। साथ हनीमून भी हो जायेगा। लेकिन बाद में जो इतिहास रचा गया उसका श्रेय एक पागल आदमी को जाता है और वो हैं कपिल देव।

रणवीर सिंह 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के साथ

जीत के बाद लोगों पर दूथ की बोतल गिराई

मदनलाल ने बताया कि जब हम वर्ल्ड कप जीत चुके थे तो हमे बताया गया कि ड्रैसिंग यम में शैंपियन की बोतले रखी हुई है । हमने शैंपियन नीचे चिल्ला रहे लोगों पर उड़ेलनी शुरू कर दी, जब शैंपियन खत्म हो गई तो वहां दूध की बोतल का दूध हमने लोगों पर गिराना शुरू कर दिया था। आह क्या मूवमेंट था वो ।

Advertisement

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.