मैं खुद को अभिनेता साबित करके स्टार बनना चाहता हूँ – मोहित मदान

0 85

17 नंवबर को डायरेक्टर अनंत महादेवन एक बार फिर ‘अक्सर 2’ के साथ वापस आ रहे है फिल्म में इस बार गौतम रोडे, जरीन खान, अभिनव शुक्ला और दिल्ली के रहने वाले और न्यूजीलैंड में पले बड़े ऐक्टर मोहित मदान भी है जो फिल्म में बच्चन सिंह का अहम किरदार निभा रहे हैं। हाल ही में हुई एक बातचीत में मोहित ने फिल्म और और अपने अपकमिंग प्रोजेक्ट को लेकर बात की।

एक्टिंग के लिए आपका रुझान कैसे जागा?

न्यूज़ीलैण्ड में मुझे हिंदी फिल्मों को देखने की दिलचस्पी जाएगी और शाहरुख़ और अक्षय कुमार का प्रशंसक होने के नाते मैंने वहां रिलीज़ हुई हर फिल्म को देखा। बाहर का ऑडिटर होने के नाते मैंने न्यूयोर्क फिल्म अकादमी में फिल्म मेकिंग और एक्टिंग कोर्स को देखा। आपके व्यवसाय में डिग्री और कागज़ के सर्टिफिकेट सिर्फ एक थ्योरी की तरह है, हालाँकि फील्ड पर आपके काम से आपको जानकारी मिलती है, जो ज़्यादा फायदेमंद और ज़रूरी है।

हॉलीवुड फिल्मों में क्यों ट्राई नही किया ?

फिल्मी कनेक्शन न होने के बावजूद मैं मुंबई में पिछले 3 से 4 सालों से हूँ और बॉलीवुड में कुछ बड़ा करने की कोशिश कर रहा हूँ। हालाँकि मुझे हॉलीवुड फिल्मों के ऑफर मिले लेकिन मैंने बॉलीवुड को चुना। जब मेरे माता पिता वापिस भारत आये, तब मैंने भारतीय फिल्मों में कोशिश करने का फैसला  किया क्योंकि मैं भारतीय संस्कृति से जुड़ा हुआ हूँ। मैंने फिल्म लव एक्सचेंज से हिंदी फिल्मों की शुरुआत की और इस फिल्म में मैंने मध्य वर्गीय मराठी मूल का किरदार किया।

अक्सर 2 में आपका रोल क्या है?

मैं फिल्म में बचन सिंह का किरदार कर रहा हूँ जो एक अच्छा किरदार हैं और जो दिमाग के खेल में फंसकर, हालात के कारण पैसों की तरफ आकर्षित होकर अपने रंग बदलता है।

अक्सर 2 किस बारे में है?

यह तीन मुख्य किरदारों के दिमाग में चल रहे खेल के बारे में एक सस्पेंस थ्रिलर है। इस फिल्म में दुश्मन पैसा है। यह एक तेज़ घूमने वाली फिल्म है, जिसमें दर्शक आखिरी तक ट्विस्ट का अंदाज़ा लगाते रह जायेंगे। सभी किरदार बिना समझे जाल में आसान तरीके से पैसे कमाने के चक्कर में फंस जाते है। हालातों के कारण सभी किरदार एक दूसरे से जुड़ जाते है।

आप फिल्म में ग्रे किरदार कर रहे है?

हम सभी में कुछ न कुछ ग्रे होता है क्योंकि कभी कभी कही न कही हर कोई मतलबी हो जाता है।

क्या टीवी में काम करना आपको अच्छा नहीं लगता?

जब कभी भी कुछ आता है तो वह फिल्म को शूटिंग से टकरा जाता है, हालाँकि मैं टीवी करना चाहता हूँ। टेलीविज़न में आपको रोज़ाना लम्बे समय तक रहना होता है और काम के प्रति समर्पित होने के कारण मैं उस समय कुछ और नहीं कर सकता।

 

Advertisement

आपको अक्सर 2 कैसे मिली?

मुझे कई फिल्मों के ऑफर आये लेकिन मैं जल्दबाज़ी में कुछ करना नहीं चाहता था। मैं उनके लिए आत्मविश्वासी नहीं था। एक दिन अचानक नरेंद्र बजाज ने मुझे एक मीटिंग के लिए बुलाया था और वहां पर अनंत नारायण महादेवन भी थे और हम लोगों ने कुछ देर तक बात की और उन्होंने मुझे अगले दिन बुलाया और मैंने 3 से 4 ऑडिशन दिए और आखिरकार उन्होंने मुझे अक्सर 2 मं बच्चन सिंह का किरदार दे दिया।

ज़रीन खान, गौतम रोडे और अभिनव शुक्ला के साथ काम करना कैसा लगा?

मुझे लगता था कि सलमान खान के साथ काम कर चुकी ज़रीन में कुछ स्टार वाले नखरे होंगे लेकिन ज़रीन बहुत ही अच्छी लड़की है और उन्होंने मुझे ऐसा एहसास करवाया जैसे मैं अपने दोस्तों के साथ काम कर रहा हूँ। गौतम रोडे बहुत अनुशासित हैं और अभिनव शुक्ला एक जाने माने टीवी एक्टर है। लेकिन सारा श्रेय डायरेक्टर अनंत महादेवन को जाता हैं जो खुद भी अभिनेता है और उन्होंने ध्यान दिया कि हम सब एक टीम के तौर पर काम करे।

आपकी आने वाली फिल्में कौनसी है?

अक्सर 2 के बाद मेरी फिल्म “इश्क़ तेरा” आएगी जो अभी पोस्ट प्रोडक्शन में है और उसमे हृषिता भट्ट है और उसे डायरेक्ट जोजो डी सौज़ा कर रहे हैं और उसे प्रोड्यूस दीपक बंदकर ने किया है। यह एक प्रेम कहानी है जो प्यार के प्रति समर्पित है और एक पारिवारिक ड्रामा है। एक और फिल्म जो अभी शुरुआती चरण में हैं,एक थ्रिलर रोमांस कॉमेडी है जिसे अवनि अग्रवाल डायरेक्ट करेंगे और जो अगले कुछ महीनों में शुरू होगी।

आप किन किन डायरेक्टर के साथ काम करना चाहते है?

मैं डायरेक्टर से ज़्यादा मैं विषय को महत्वता देता हूँ लेकिन मैं संजय लीला भंसाली, राजकुमार हिरानी और इम्तिआज़ अली के साथ काम करना चाहता हूँ।

आज से कुछ सालों बाद आप खुद को बॉलीवुड में कहा देख रहे हैं?

बतौर अभिनेता मेरा सफर आगे बढ़ना चाहिए और मुझे एक कदम पीछे नहीं लाना चाहिए क्यूंकि हमारी इंडस्ट्री में विषय राजा है। अगर आप अपनी अच्छी समाज के बावजूद एक गलत फिल्म का चुनाव कर ले तो आपके करियर का करीब एक साल चला जाता है। मैं फिल्में चुनने में समय लेता हूँ और अपने किरदार के बारे में पूरी तरह सोचता हूँ कि मुझसे वह किरदार हो सकेगा या नहीं। अगले पांच सालों में मैं यकीनन मौजूदा हालातों से आगे बढ़ना चाहूंगा और खुद को अच्छे अभिनेता के तौर पर स्थापित करना चाहूंगा,जिसे दर्शक पसंद करेंगे।

तो क्या इसका मतलब यह है कि आप स्टार नहीं बनना चाहते?

मैं ज़िन्दगी में आगे बढ़ना चाहता हूँ और पीछे मुड़कर नहीं देखना चाहता। मैं खुद को अभिनेता साबित करके फिर स्टार बनना चाहता हूँ। अगर आप पहले स्टार बनने आये है तो आप गलत काम में आ गए है।

 

Advertisement

Advertisement

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.